अरुणाचल प्रदेश में घूमने की 5 जगह (Best Places to visit in Arunachal)

अरुणाचल प्रदेश में घूमने की 5 जगह: अरुणाचल प्रदेश भारत का इकलौता राज्य है, जहां सबसे पहले सूर्योदय होता है। भारत के उत्तर पूर्व में बसा यह राज्य अपनी प्राकृतिक सुंदरता और सांस्कृतिक विरासत के लिए जाना जाता है। अरुणाचल प्रदेश का 80 फीसदी हिस्सा वनों से घिरा हुआ है, और यहां एक से एक विशाल झरने है जहां पर्यटक विजिट कर सकते है।

राज्य की सीमा तीन देशों से लगती है जिसमे भूटान, चीन और म्यामार शामिल है। अरुणाचल प्रदेश के ऊंचे पहाड़, मनमोहक झरने और घुमावदार सड़के पर्यटकों का मन मोह लेती है। राज्य में टूरिस्ट्स के लिए एक से बढ़कर एक धूमने की जगहे है। इस आर्टिकल में हमने अरुणाचल प्रदेश में घूमने की 5 जगह के बारे में विस्तृत जानकारी दी है।

अरुणाचल प्रदेश में घूमने की 5 जगह

अरुणाचल प्रदेश के ऊंचे-ऊंचे पहाड़, घुमावदार सड़के, बर्फीली हवाएं, प्राचीन बौद्ध मठ, सुंदर जंगल यहां आने वाले पर्यटकों को आकर्षित करते है। अरुणाचल प्रदेश प्रकृति और आधुनिकता का एक अद्भुत नमूना है। यदि आप कहीं घूमने का प्लान कर रहे है तो अरुणाचल प्रदेश की यात्रा करना एक बेहतर और आनन्ददायक विकल्प हो सकता है। इस आर्टिकल में हमने आपके साथ अरुणाचल प्रदेश में घूमने की 5 जगह के बारे में एक विस्तृत जानकारी साझा की है।

तवांग

अरुणाचल प्रदेश की जो जगह पर्यटकों को सबसे ज्यादा आकर्षित करती है, उनमें से एक टूरिस्ट साइट तवांग है। तवांग राज्य की राजधानी ईटानगर से 448 किलोमीटर दूर 3048 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। तवांग अपने नीले आकाश, बर्फ से भरे पहाड़ो, बर्फीली हवाओ, घने जंगलों, शांति के लिए बौद्ध मठों और गहरे व सकरे दर्रो के लिए जाना जाता है। इस लिहाज से अरुणाचल प्रदेश का यह स्थान शीर्ष पर्यटन स्थलों में से एक है।

यदि आप शांति की तलाश में है तो तवांग आ सकते है, यदि आप घने जंगलों में एडवेंचर करना चाहते है तो आप तवांग आ सकते है। तवांग में पैंगोंग त्सो और सेला झील जैसी प्राचीन झीलें स्थित है। पर्यटक बहादुर सैनिकों को श्रद्धांजलि देते हुए ऐतिहासिक जसवन्त गढ़ युद्ध स्मारक विजिट कर सकते है। इसके अलावा तवांग में बिस्किट करने की कुछ प्रमुख स्थलों में बुम ला दर्रा जैसे ट्रैकिंग स्थान, टोरग्या और लोसर, प्राचीन व प्रसिद्ध मठ शामिल है।

  • राजधानी से दूरी- 448 किलोमीटर
  • घूमने की प्रमुख जगहें- तवांग मठ, भारत चीन सीमा, जसवंत गढ़ तवांग युद्ध स्मारक, उरगेलिंग गोम्पा, तवांग क्राफ्ट सेन्टर, माधुरी झील, पैंगोंग त्सो झील, बाप तेंग कांग झरने।
  • तवांग घूमने का समय- मानसून
  • प्रसिद्धि का कारण- बौद्ध मठ, प्राकृतिक सुंदरता

ईटानगर

अरुणाचल प्रदेश राज्य में स्थित, ईटानगर अपनी शांत सुंदरता और सांस्कृतिक समृद्धि से पर्यटकों को आकर्षित करता है। समुद्र तल से 750 मीटर की ऊँचाई पर स्थित ईटानगर राज्य की राजधानी है। पर्यटकों के लिए शहर में घूमने के लिए एक से बढ़कर एक शानदार और स्थान है। आप ऐतिहासिक किलो, हरे भरे हरियाली जंगलों अजर गंगा झील की यात्रा कर सकते है।

ईटा किला राज्य की राजधानी ईटानगर से 3 किलोमीटर दूर स्थित है। इस किले में आप सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक 1-2 घण्टे के लिए घूम सकते है, किले के अंदर जाने के लिए कोई शुल्क नही लिया जाता। यदि आप ईटानगर जाए है तो जवाहरलाल नेहरू राज्य संग्रहालय, इंदिरा गांधी पार्क, बौद्ध मंदिर, थेरवाद बुद्ध विहार को देखना न भूलें।

  • राजधानी से दूरी- 0 किलोमीटर
  • घूमने की प्रमुख जगहें- इंदिरा गांधी पार्क, जवाहरलाल नेहरू राज्य संग्रहालय, गोम्पा बौद्ध मंदिर, ईटानगर वन्यजीव अभ्यारण्य,गंगा झील
  • ईटानगर घूमने का समय- मानसून

पासीघाट

यदि आप आने वाले समय मे या इस वेकेशन अरुणाचल प्रदेश घूमने का प्लान बना रहे है, तो आपको पासीघाट जरूर विजिट करना चाहिए। पासीघाट राजधानी ईटानगर से 262.2 किलोमीटर दूर स्थित है, जहां जाने में 5 घण्टे 40 मिनट का समय लगता है। पासीघाट अरुणाचल प्रदेश में घूमने की 5 जगह में से एक महत्वपूर्ण स्थान है। अरुणाचल प्रदेश के सुंदर परिदृश्य में स्थित, पासीघाट अपनी मनमोहक सुंदरता और सांस्कृतिक समृद्धि से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

पासीघाट अरुणाचल राज्य के सबसे पुराने शहरों में से एक है। सियांग नदी के किनारे बसे इस शहर में प्रकृति और आधुनिकता का अनूठा संगम देखने को मिलता है। पासीघाट में पर्यटक आसपास की पहाड़ियों में रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग कर सकते है और स्थानीय गांवों का दौरा करके, त्योहारों को देखकर और पारंपरिक व्यंजनों का स्वाद व संस्कृति का आनंद ले सकते है। यदि आप यहां जाते हैं तो ग्लो झील जाना न भूलें।

  • राजधानी से दूरी- 262.2 किलोमीटर
  • पासीघाट में घूमने की जगह- डेइंग एरिंग वन्यजीव सैंक्चुअरी,पेंगीन, केकर मोनिंग, ग्लो झील, राफ्टिंग
  • पासीघाट घूमने का समय- जनवरी, फरवरी, मार्च, अप्रैल और अक्टूबर
यह भी पढ़ें: बाइक खरीदने से पहले क्या देखना चाहिए: नई Bike खरीदने से पहले अपनाएं ये “Tricks”

जीरो वैली

भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य में बसी जीरो वैली राजधानी ईटानगर से 104.8 किलोमीटर दूर बसा एक शानदार पर्यटनीय स्थल है। जीरो वैली हरी-भरी हरियाली और सुंदर परिदृश्यों से घिरा , आदिवासी संस्कृति और प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है। यह घाटी अपने चावल के खेतों, बांस के जंगलों और बहती नदियों के साथ एक शांत और सुंदर वातावरण प्रदान करता है। जीरो वैली यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल में शामिल है और यह ज़ीरो संगीत महोत्सव के लिए प्रसिद्ध है, जो दुनिया भर के संगीत प्रेमियों को आकर्षित करता है।

जिन पर्यटकों को एडवेंचर पसन्द है वे लोग टैली वैली वन्यजीव अभयारण्य जा सकते है। ज़ीरो वैली में टूरिस्ट काइल पाखो, तरीन फिश फार्म, टैली वैली वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी पाइन ग्रोव, टीपी आर्किड रिसर्च सेंटर, डोलो मंडो आदि स्थानों पर जा सकते है। यदि आप अरुणाचल प्रदेश जाते है तो ज़ीरो पूटो और मिडे जैसे स्थानों पर विजिट करना न भूले। राजधानी ईटानगर से जीरो वैली जाने में आपको लगभग 2 घण्टे 47 मिनट का समय लग सकता है।

  • राजधानी से दूरी- 104.8 किलोमीटर
  • जीरो वैली में घूमने की जगह- काइल पाखो, तरीन फिश फार्म, टैली वैली वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी पाइन ग्रोव, टीपी आर्किड रिसर्च सेंटर, डोलो मंडो
  • जीरो वैली घूमने का समय- अक्टूबर से अप्रैल

बोमडिला

अरुणाचल प्रदेश में घूमने की 5 जगह

बोमडिला अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम कामेंग जिले में स्थित, राजधानी ईटानगर से 272 किलोमीटर दूर स्थित एक मनोरम पर्यटनीय स्थल है। बोमडिला में बोमडिला मठ एक महत्वपूर्ण बौद्ध तीर्थ स्थल है। गर्मियों के मौसम में बोमडिला का सफर किसी स्वर्ग से कम नही है। बोमडिला मठ एक प्रमुख पर्यटनीय स्थल है जिसका निर्माण सन 1965 में किया गया थाबोमडिला में स्थित आरआर हिल्स घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से से एक है। सैलानियों के लिए पहाड़ो के लुभावने दृश्यों के लिए बोमडिला व्यू पॉइंट एक शानदार और खूबसूरत जगह है। बोमडिला जाने का सबसे अच्छा मौसम अप्रैल से अक्टूबर के बीच को माना जाता है।

  • राजधानी से दूरी- 272 किलोमीटर
  • बोमडिला में घूमने की जगह- बोमडिला मठ, आरआर हिल्स, बोमडिला व्यू पॉइंट
  • बोमडिला घूमने का समय- अप्रैल से अक्टूबर

Conclusion

यदि आप घूमने के शौकीन है या आपको एडवेंचर पसन्द है इनस सबके लिए अरुणाचल प्रदेश एक बेस्ट जगह है। अरुणाचल प्रदेश का 80% स्थान घने जंगलों से घिरा हुआ है, ऐसा में एडवेंचर प्रेमियों के लिए ये एक शानदार जगह हो सकती है। अरुणाचल प्रदेश में सैलानियों को ऐतिहासिक किले, ऊंचे ऊंचे पहाड़, मनोरम झरने, घने जंगल, घुमावदार सड़के, प्रसिद्ध मठ समेत कई शानदार जगह घूमने के लिए उपलब्ध है। 35,000 रुपयों में आप 8 दिन की यात्रा कर सकते हैं। इस अर्टिकल में हमने अरुणाचल प्रदेश में घूमने की 5 जगह के बारे में विस्तृत जानकारी दी है।

FAQs

अरुणाचल प्रदेश घूमने की 5 प्रसिद्ध जगहें?

अरुणाचल प्रदेश घूमने की 5 जगहों में तवांग, ईटानगर, पासीघाट, जीरो वैली, बोमडिला आदि जैसी जगह शामिल है।

अरुणाचल प्रदेश घूमने में कितना खर्च आता है?

अरुणाचल प्रदेश के लिए 8 दिन का ट्रेवल पैकेज 35000 तक का हो सकता है।

अरुणाचल घूमने के लिए कौन सा महीना बेस्ट है?

अरुणाचल प्रदेश घूमने के लिए अप्रैल से अक्टूबर के महीना घूमने के लिए बेस्ट महीना है।

अरुणाचल प्रदेश क्यों प्रसिद्ध है?

अरुणाचल प्रदेश पहाड़ो, झरनों, बौद्ध मठों, दर्रे और झीलों के लिए प्रसिद्ध है।

अरुणाचल प्रदेश में बर्फबारी कब होती है?

अरुणाचल प्रदेश में दिसंबर के मध्य से बर्फबारी शुरू हो जाती है।

Leave a Comment