Azad Engineering IPO: अलॉटमेंट से पहले GMP में बड़ा बदलाव, अब इस तारीख को होगी लिस्टिंग

Azad Engineering IPO: आजाद इंजीनियरिंग के IPO की लिस्टिंगकी अवधि के पूरा होने के बाद (20 दिसंबर से 22 दिसंबर), Azad Engineering IPO का अलॉटमेंट मंगलवार (26 दिसंबर) को होने की संभावना है। इसके पहले IPO के जीएमपी में हलचल देखने को मिल रही है। Azad Engineering IPO का प्राइस बैंड 499 रुपये से लेकर 524 रुपये प्रति शेयर तय किया गया था और जबकि इसका इश्यू साइज 740 करोड़ रुपये का था। इस IPO में 50 प्रतिशत हिस्सा क्यूआईबी, 35 प्रतिशत हिस्सा रिटेल निवेशकों के लिए और 15 प्रतिशत हिस्सा एनआईआई के लिए रिजर्व रखा गया है। आईपीओ 20 दिसंबर से 22 दिसंबर तक निवेशकों के लिए खुला था।

Azad Engineering IPO के GMP में आयी गिरावट

आजाद इंजीनियरिंग आईपीओ (Azad Engineering IPO) के जीएमपी में मंगलवार को बड़ी गिरावट देखने को मिली है। मिंट की रिपोर्ट की माने तो, फिलहाल GMP 311 रुपये के आसपास चल रहा है, जबकि शुक्रवार को Azad Engineering IPO का GMP 445 रुपये प्रति शेयर था। GMP किसी भी शेयर में निवेशकों के रुझान को दर्शाता है। शेयर बाजार के जानकारों का मानना है कि मजबूत रेस्पॉन्स के बावजूद निवेशकों का रुझान शेयर के प्रति कमजोर हुआ है।

कब होगा लिस्ट

आज़ाद इंजीनियरिंग का आईपीओ BSE और NSE दोनों जगह पर लिस्ट हो सकता है। 26 दिसंबर 2023 को अलॉटमेंट जारी हिने के बाद, 28 दिसंबर तक Azad Engineering Share NSE और BSE पर लिस्ट हो सकता है। यदि मौजूदा GMP के अनुसार कैलकुलेट किया जाए तो इसकी लिस्टिंग 835 रुपये प्रति शेयर हो सकती है।

यह लेख भी आपको पसन्द आएंगे-

कंपनी के बारे में

आज़ाद इंजीनियरिंग कंपनी एयरोस्पेस कॉम्पोनेन्ट और टरबाइन्स का निर्माण करती है। कंपनी एयरोस्पेस, रक्षा, ऊर्जा,तेल और गैस के क्षेत्र में काम करती है। इसकी हैदराबाद में चार मैन्युफैक्चरिंग यूनिट है। कंपनी के प्रमुख ग्राहकों में जनरल इलेक्ट्रिक, हनीवेल इंटरनेशनल इंक, मित्सुबिशी हैवी इंडस्ट्रीज, इटन एयरोस्पेस, सीमेंस एनर्जी और मैंन एनर्जी सॉल्यूशन्स शामिल है।

Leave a Comment

Exit mobile version