परिवार के 12 लोगो ने मिलकर बनाई 45 हजार करोड़ की कंपनी

हर सेकंड बेचती है 4500 पैकेट्स, महीने में 100 करोड़  पैकेट्स का पैकेट का करती है प्रोडक्शन।

हम बात कर रहे है, Parle G Company की जिसके प्रोडक्ट्स का आप डैली यूज़ करते होंगे।

Parle G Company की शुरुआत मोहनलाल दयाल चौहान जी ने 1929 में कई थी।

1928 में रेशम का व्यापार बंद कर जर्मनी से 60,000 हजार में लाये थे मशीनें।

मोहनलाल Parle G Biscuits बनाने से पहले करते थे रेशम का व्यापार।

आज पार्ले जी कंपनी 21 देशों में करती है व्यपार, 50,000 से ज्यादा लोगो को देती है रोजगार।

परिवार के 12 लोगो से शुरू की थी Parle G Company आज 45,000 करोड़ से अधिक की है नेटवर्थ।